- Advertisement -
HomeMUSIC LYRICSMat maro Shyam pichkari Holigeet

Mat maro Shyam pichkari Holigeet

- Advertisement -

Mat maaro shyam pichkaari मत मारो श्याम पिचकारी 

Mat maro Shyam pichkari- Holi bharat ka ek aisa tyauhar hai jo kisi jaati vishesh mein hi simat kar nahi raha hai .Aaj sabhi dharm ke log bade hi utsah aur dhum dhaam se mijulkar manate hain . aaiye nimnavat kuchh geeton ke bol ka aanand liya jaay .

      Lyrics.होली गीत के बोल।  (1)

ररररररर हाँ हाँ हाँ
मत मारो मत मारो
मत मारो रे मत मारो
मत मारो श्याम पिचकारी रे
मत मारो ।

अबीर गुलाल की धुम मची है- 2
कंचन के पिचकारी
भरी पिचकारी वदन पर मारे -2
सास सुनेगी देगी गाली रे
मत मारो ………….

बरजो यशोमती अपने ललन को -2
हम संग करे बलजोरी- 2
बहिया मरोरे रहिया में रोके -2
भेवे अंगियां सारी रे मत मारो
मत मारो…………..  ।
धन्यवाद पाठकों,
रचना -कृष्णावती कुमारी
          होली गीत के बोल  Lyrics (2)
Holi geet Man mohe muraliya
Holi geet man mohe muraliya

मन मोहे मुरलिया तोर रसिया 2
ऐसी धुन बजायो रसिया 2
फाग मचे चहूं ओर रसिया
मन मोहे….………।

गौरी के संग महादेव खेले
सीता के संग रघुबर खेले
भेवे सररर बोल अंगिया -2
मन मोहे……….    ।

ग्वाल बाल सब धुम मचावे -2
रंग गुलाल गगन में उड़ावे -2
राधा के संग चितचोर रसिया।
मन मोहे…………  ……..।

धन्यवाद पाठकों,
रचना-कृष्णावती कुमारी

           Lyrics.   होली गीत के बोल( 3)

Holi geet holi aai re
holi geet holi aaee re

होली आई रे आई रे होली आई रे
देखो बृज की टोली आई रे -2

रंग बिरंग पिचकारी लेके धावे बाल गोपाला
गलीयन गलीयन गोपियां भागे पिछे नंन्द के लाला
अंग भेवे-2 सररर बोली रे होली आई रे।
होली………….
मस्ती में  जब कान्हा गावे झुमे ग्वाल की टोली-2
ढोल नगारा वंशी बाजे नाचे राधा गोरी -2
लिए रंग गुलाल की झोली रे होली आई रे।
होली आई………………………।
धन्यवाद पाठकों,
रचना -कृष्णावती कुमारी
- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

604FansLike
2,458FollowersFollow
133,000SubscribersSubscribe

Must Read

- Advertisement -

Related Blogs

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Whatsapp Icon