- Advertisement -
Homelatest newsDhwast Mandiron Ko Bhavy Banayegi Modi Sarkar

Dhwast Mandiron Ko Bhavy Banayegi Modi Sarkar

- Advertisement -
Google News Follow

Dhwast Mandiron Ko Bhavy Banayegi Modi Sarkar

Table of Contents

Dhwast Mandiron Ko Bhavy Banayegi Modi Sarkar– मुस्लिम बादशाहों ने कई बड़े मंदिरों को ध्वस्त किया|उसे आज मोदी सरकार द्वारा भव्य निर्माण किया जा रहा है | इस देश की मिट्टी बाकी दुनिया की मिट्टी से कुछ अलग है |यहाँ औरंगजेब आता है तो शिवाजी भी उठ खड़े होते हैं|

अगर कोई सालार मसूद इधर बढ़ता है,तो राजा सुहेलदेव जैसे वीर योद्धा हमारी एकता की ताकत को अहसास करा देते है |ये पक्तियाँ पीएम मोदी जी के भाषण की हैं जो काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के उदद्घाटन में दिया था|काशीव विश्वनाथ मंदिर को ध्वस्त करवाना, मुगल शासक औरंगजेब हिंदुओं के प्रति नफ़रत उगलते हुवे इस जघन्य अपराध को अंजाम दिया था |

इसके अलावा पीएम मोदी ने गुजरात के सोमनाथ मंदिर का रेनोवेशन, अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण भी किया जा रहा है |इतिहास गवाह है, कि हिन्दुओं के ऐसे कई मंदिरों को मुगल बादशाहों ने ध्वस्त किया है |इतना ही नहीं अब मोदी सरकार का देश विदेश के कई मंदिरों के रेनोवेशन में योगदान है |आज हम इस पोस्ट में जानेंगे कि किन- किन मंदिरों का रेनोवेशन पीएम द्वारा किया जा रहा है –

मोदी सरकार द्वारा ध्वस्त मंदिरों के भव्य निर्माण और उन मंदिरों के नाम

1. काशी विशनाथ मंदिर कॉरिडोर- 

सन् 2019 मार्च में पीएम मोदी द्वारा 700करोड़ रुपए के लागत से कॉरीडोर प्रोजेक्ट का शुभारंभ किया गया | 2021 दिसंबर में 339 करोड़ के रेनोवेशन कामों का लोकार्पण बड़े ही जोर-शोर से किया गया है |इसके अंतर्गत काशी विश्वनाथ से लेकर गंगा घाट तक 5 लाख वर्गफिट में कॉरीडोर बनाया गया है | आपको ज्ञात हो कि मुगल शासक औरंगजेब ने इस मंदिर को 1669 में ध्वस्त करवाया था | लेकिन 1780 में इंदौर की मराठा शासक अहिल्या बाई ने इसका पुनः निर्माण करवाया था | 

2. सोमनाथ मंदिर कॉम्प्लेक्स –

सीएम के पद पर आसीन रहते हुवे मोदी जी ने मंदिर के सौंदर्यीकरण का वीणा उठाया था |2021 अगस्त  में पीएम मोदी जी ने मंदिर में तीन अहम प्रोजेक्ट का  उद्घाटन किया | इसके अंतर्गत पार्वती मंदिर का शिलान्यास किया गया था | इसमें दर्शन पथ और एग्जीवेशन सेंटर का भी पीएम मोदी ने लोकार्पण किया | उदघाटन करते समय मोदी जी ने कहा कि आतंक का शासन हमेशा के लिए नहीं होता  |

3.अयोध्या में राम मंदिर पुनर्निर्माण – 
आप सभी को ज्ञात हो कि लालकृष्ण आडवाणी के अगुवाई में जिस समय  राम मंदिर के लिए रथ यात्रा निकला गया  था उस समय  श्री नरेंद्र मोदी भी उस यात्रा के हिस्सा थे | जब नरेंद्र मोदी जी प्रधानमंत्री बनें, तब उसके बाद राम मंदिर मुकदमा ने गति पकड़ा और सुनवाई तेज हुई| परिणाम स्वरूप 9नवंबर2019 को  उचित फैसला आया| यह दावा किया जाता है, कि 1528 में बाबर का सेनापति मीर बाकी ने अयोध्या में राम मंदिर तोड़कर वहाँ मस्जिद बनवाई थी | लेकिन 2019 में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद उस जगह पर राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ हो गया | जहां बाबरी मस्जिद गिराई गई थी |

4.कश्मीर में मंदिरों का पुनर्निर्माण – 

जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाये जाने के बाद मोदी सरकार ने घाटी में मंदिर काम्प्लेक्स के रेनोवेशन का प्रोजेक्ट लॉंच किया | 31साल बाद 2021 खुले शीतलानाथ मंदिर ने खूब सुर्खियां बटोरी थी | कश्मीर घाटी में हिंदुओं के 1842 पूजा स्थल, जिसमें 212 ऑपरेशनल है |1990 कि दशक में आतंकवाद की वजह से लाखों कश्मीरी पंडित पलायन कर गए |जिसकी वजह से मंदिर भी बंद पड़े थे | जिसमें कुछ नाम ….. *श्रीनगर का रघुनाथ मंदिर * पाटन का शंकार्गौरीश्वर मंदिर * अनंतनाग का मार्तंड मंदिर *श्रीनगर का पान्द्रेथन मंदिर * अवन्तिपोरा के अवन्तिस्वामी और अवनतिस्वरा मंदिर |

5. केदारनाथ मंदिर  –
मोदी जी बड़े ही धार्मिक प्रवृति के हैं |हमेशा से कहते रहे हैं कि राजनीति में आने से पहले मेरा पसंदीदा धाम केदारनाथ हुआ करता था |जब सरकार में आए तो उन्होंने केदारनाथ मंदिर का रेनोवेशन प्रोजेक्ट लॉन्च किया | इस प्रोजेक्ट के तहत इशानेश्वर मंदिर ,आस्था चौक में ओंकार की प्रतीमा ,आदि गुरु शंकरा चार्य की प्रतीमा ,शिव उद्यान और वासुकी ताल का निर्माण किया जा रहा है | 2013 कि बाढ़ में बुरी तरह प्रभावित हुआ था केदारनाथ मंदिर |

6.चार धाम प्रोजेक्ट –

केदारनाथ , बद्रीनाथ,गंगोत्री और यमुनोत्री को जोड़ने के लिए ये प्रोजेक्ट शुरू किया गया है |इसके लिए सभी मौसम में इस्तेमाल की जा सकने वाली रोड का नेटवर्क बनाया जाएगा |इसके साथ रेल लाइन भी बनाई जाएगी |* ऋषिकेश से कर्ण प्रयाग तक, रेल लाइन का काम जारी है |ये रेल लिंक 2025 तक शुरू हो जाएगा |*पीएम ने दिसंबर 2016 में प्रोजेक्ट की नीव रखी थी|तब इसकी अनुमानित लागत करीब 12 हज़ार करोड़ रुपए आँकी गई थी|

7. विदेशों में भी मंदिर – 
 2019 मे पीएम मोदी ने बहरीन के रेनोवेशन के लिए मल्टी मिलियन डॉलर प्रोजेक्ट लॉन्च किया |बहरीन के मनामा स्थित  श्रीनाथ जी का मंदिर जब बनकर तैयार होगा, तो ये तीन मंजिला इमारत होगी | 2018 में पीएम मोदी ने अबू धाबी में पहले हिन्दू मन्दिर की आधार शीला रखी थी | यूएई सरकार 2015 में पीएम मोदी की यात्रा के दौरान मंदिर के लिए जमीन का आवंटन किया था| 

वो प्रमुख मंदिर जिन्हें इतिहास में तोड़े जाने के दावा किए जाते हैं …….

  • मथुरा का केशव मंदिर 
  • गुजरात का रुद्र महालय मंदिर 
  • अहमदाबाद का भद्रकाली मंदिर 
  • विदिशा का विजयदेव मंदिर 

यह भी पढ़ें :

  1. राम के बाद लव कुश का क्या हुआ
  2. सुपर्नेखा के बारे में रोचक बातें
  3. हिंदुओं के सप्तक्षेत्र
  4. शिव के बारे में फैलाये गए 5झूँठ

 

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

604FansLike
2,458FollowersFollow
133,000SubscribersSubscribe

Must Read

- Advertisement -

Related Blogs

- Advertisement -
Whatsapp Icon