- Advertisement -
HomeMUSIC LYRICSTop Sarswati Vandana Lyrics

Top Sarswati Vandana Lyrics

- Advertisement -

Top Sarswati Vandana Lyrics|टॉप सरस्वती वंदना लिरिक्स

Top Sarswati Vandana Lyrics-यदि आप सरस्वती वदना का लिरिक्स ढूंढ रहें हैं, तो सही जगह पर आए हैं |आज हम इस इस पोस्ट में आपको Top Sarswati Vandana Lyrics को आपके लिए लाये हैं ,जो अति सुंदर और खूबसूरत शब्दों द्वारा रचित है |यदि आप एक कंपोजर हैं, तो नोश्चित ही आप इस रचना से लाभान्वित होंगे,तो आइये निम्नवत कई रचनाओं से आपको अवगत कराती हूँ |

1.सरस्वती वंदना 

स्थाई-

वीणा निनादिनी ते नमः

अई देवी ते शततम  नमः |

सततम नमः सततम नमः

अई देवी ते शततम नमः |

वीणा निनादिनी ते नमः |

अंतरा –

* हे पाप पूंज विनाशिनी

हे देव भाव प्रकाशीनी

हे मातु अद्भुत शक्ति दे

जगदंब के वरदायनी

विद्या विते शत शत नमः

शत तम नमः …………..

वीणा निनादिनी …..

 

* हे देवी वीणा वादिनी

मात: सरस्वती ज्ञान दें

करू विश्व अखिलम पावनम

वीणा निनदाये भारते

विद्या chitan शत तम नमः

अई देवी ते ……………

वीणा निनादिनी ते नमः

अई देवी ते शत तम  नमः

 

2.सरस्वती वंदना

स्थाई-

माँ शारदे वरदान दो 

हमको नवल उत्थान दो |

माँ शारदे वरदान दो

मुझको नवल उत्थान दो

अंतरा –

* माँ शारदे हंस वाहिनी 

वागीश वीणा वादिनी

नव गीत नई लय ताल दो

माँ शारदे वरदान दो

मुझको नवल उत्थान दो………..

 

*सबकी सफल हो साधना 

तेरी करूँ मैं आराधना

भारत सदा ही महान हो

माँ शारदे वरदान दो

मुझको नवल उत्थान दो………..

 

*हो सत्य जीवन सारथी

तेरी करूँ नित आरती

निज चरण मीन स्थान दो

माँ शारदे वरदान दो

मुझको नवल उत्थान दो ………

 

3.सरस्वती वंदना|Top Sarswati Vandana Lyrics

स्थाई –

हे माँ s s हे माँ s s वीणा विपुल बजा, तार-तार झंकार करें वह- 2

स्वर संसार सजा ………………….

वीणा विपुल बजा …………………

 

अंतरा-

        * गूँज उठे गीतों की कड़ियाँ

स्वत: स्फूर्ति भावों की लड़ियाँ

फैले रंग हृदय वासंती

राग रागिनी की फुलझड़ियाँ

व्योमा व्योमा घन बनजा S S

वीणा विपुल बजा ………..………..

 

*प्रगटे पुण्य प्रबल हो प्रभुता

विद्या ज्ञान सहज शुचि कविता

साधो सम सनातन रचना

हर उनमेश उमड़ती सरिता

सीमा सीमा सांस-सांस रम  जा

वीणा विपुल बजा …………….

 

*घर-घर ब्रज मन मन वृन्दावन

प्रीतम साध्य प्रीति हो साधन

जन गोपी ग्वाल राधिका

वीणापाणि  सफल कर जीवन

वीणा पाणि सफल कर जीवन

भीमा भीमा मन वांछित फल पा

वीणा विपुल बजा ……………..

हे माँ S S हे माँ S S वीणा विपुल बजा …….

4.सरस्वती वंदना| Top Sarswati Vandana Lyrics

 

स्थाई –

जय सरस्वती शारदे माँ

जय सरस्वती शारदे माँ

सर्व शक्ति विशारदे माँ

जय सरस्वती शारदे माँ 

 

अंतरा-

*डोलत कुंडल श्रुति युगल में

शुभ्र मुक्तिक माल ताल में   

शीश रत्न कीरति रात

निखिल जग उजियार दे माँ

जय सरस्वती शारदे माँ ………

 

*देवी भगवती वेद मूरति

हो प्रसन्नता प्रणत जनपति

नाश कर अज्ञान जड़ मति

शुद्ध बुद्धि विचार दे माँ 

दिग दिगंत वसंत जागृत

हृदय कानन आज मुकलित

दिव्य वीणा करसु झंकृत

जननी मोह निवार दे माँ

जय सरस्वती शारदे माँ

सर्व शक्ति विशार दे माँ 

 

5. सरस्वती वंदना Top Sarswati Vandana Lyrics

 

स्थाई –

मातु सरस्वती आदि भवानी 

मातु सरस्वती आदि भवानी

मन में ज्ञान का दीप जला दो

तम हर लो माँ जग के सारे

मन अज्ञान को दूर भगा दो

मातु सरस्वती आदि भवानी

मातु सरस्वती आदि भवानी……….

 

अंतरा –

* कर दो दया की दृष्टि हम पे

माँ हम तेरी शरण में आए

तू हीं शक्ति तू हीं भक्ति

तू विद्या दानी निधानी

ध्यान धरें नीत तेरा माता

मन भक्ति की लगन लगा दो

मातु सरस्वती आदि भवानी

मन में ज्ञान का दीप जला दो

तम हर लो माँ जग के सारे

मन अज्ञान को दूर भागा दो 

*हंस वाहिनी पुस्तक धारिणी

सप्त  सुरण हे वीणा वादिनी

विद्या दानी जग कल्याणी

तेरे चरण में ध्यान लगाएं

भूले  भटके चंचल मन को

अपनी चरण में मातु शरण दो

मातु सरस्वती आदि भवानी

मन में ज्ञान का दीप जला दो

तम हर लो माँ जग के सारे

मन अज्ञान को दूर भागा दो

मातु सरस्वती आदि भवानी

मातु सरस्वती आदि भवानी

यह भी पढ़ें :

 

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

604FansLike
2,458FollowersFollow
133,000SubscribersSubscribe

Must Read

- Advertisement -

Related Blogs

- Advertisement -
Whatsapp Icon