- Advertisement -
Homeरचना कृष्णावती कुमारीदिल को छु लेने वाला शिव भजन

दिल को छु लेने वाला शिव भजन

- Advertisement -

Table of Contents

                               शिव  भजन

शिव   भजन 

        जिनके  सिर पे हो भोले का हाथ रे।
        वो नर  ना होवे  आनाथ  रे।
     
        लाख बाधा हो तेरे सफ़र में।
        मैं रुकूंगी ना आधे डगर में।
        चाहें जीवन बचे नहीं  आज रें
         वो नर……………….
         जिनके…….….

         तेरे  दर्शन  की  हूं  मैं  दिवानी।
         चाहें  हठ मानो चाहे  मनमानी।
         जपते जपते आउंगी ओम नाम रे
         वो नर………………..
         जिनके………………

     
          मन  के  मंदिर में  जो नित ध्यावे।
          पल में रंक से  राजा हो जावे।
          तेरी कृपा बनी  रहे  साथ   रे
          वो नर…………
           जिनके………….

                                            धन्यवाद पाठकों
                                            रचना- कृष्णावती कुमारी
     

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

604FansLike
2,458FollowersFollow
133,000SubscribersSubscribe

Must Read

- Advertisement -

Related Blogs

- Advertisement -