- Advertisement -
HomeकविताPoem on Christmas

Poem on Christmas

- Advertisement -

Chrismus Kyon Manaya Jata hai?

Poem on Christmas- पूरे विश्व में क्रिसमस 25 दिसंबर को यीशु मसीह के जन्म की खुशी में  मनाया जाता है I इसे बड़ा धूम धाम से मनाया जाता है I

क्रिसमस ईसाईयों का महत्व पूर्ण औऱ धार्मिक त्योहार है I परंतु इसे आजकल सभी धर्म के लोग धूम धाम से मानते हैl ईसाई धर्म के  अनुयायी इस दिन को यानि 25 दिसंबर को  सबसे बड़ा दिन मानते है |

जबकि इस दिन यीशु मसीह के जन्म के विषय में कोई  आज भी ठोस प्रमाण नहीं मिलता है I यह सिर्फ मान्यता भर रह  गया है I क्रिसमस 🎅 संता क्लॉज, तोहफ़े केक और शुभ कामनाओ का त्योहार है I

आइए इस चंद पंक्तियों से जानते है कि किस प्रकार सभी को क्रिसमस का बेसब्री से इंतजार रहता है I जिसमें बच्चों को सबसे ज्यादे खुशी होती है I   

 

                                                         क्रिसमस कविता

 

गया नवंबर आया दिसंबर,
खत्म हुआ इंतजार।
मिलकर बांटो खुशियां यारों,
आया क्रिसमस त्यौहार।
 

कई दिनों से साफ़ सफ़ाई ,
सबके घर में होती।
कहीं मिठाई कहीं खिलौने,
कहीं सजावट होती।
 
संता आया संता आया,
मची हुई है धूम।
चौकलेट टाफी  गिफ्ट ले आया,
बांटें झूम  झूम।

 

हैप्पी क्रिसमस हैप्पी क्रिसमस,
गूंज उठा चहूं  ओर।
त्याग ईर्ष्या द्वेष सभी,
बंध जाए प्रेम की डोर।
रात को बारह ,
जब बज जाये।
मैरी क्रिसमस मैरी क्रिसमस,
गुंजित सारा जग हो जाए।

 

धन्यवाद पाठकों
रचना-कृष्णावती कुमारी
 
 
 
- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

604FansLike
2,458FollowersFollow
133,000SubscribersSubscribe

Must Read

- Advertisement -

Related Blogs

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Whatsapp Icon