- Advertisement -
HomeSarakari yojanaWhat Is pan Tan And Tin Number

What Is pan Tan And Tin Number

- Advertisement -

What Is Pan Tan And Tin Number|क्या होता है पैन टैन और टीन नंबर

What Is Pan Tan And Tin Number- इस पोस्ट में हम जानेंगे कि आखिर यह Pan, Tan, Tin number क्या हैं ? इनका क्या काम होता है |यानि इनका इस्तेमाल कहां कहां होता है | आप बिलकुल सही जगह  पर आए हैं जहां  आपको सही और उचित जानकारी मिलेगी |आइये निम्नवत विस्तार से  हम जानेंगे कि बेसिक अंतर क्या है |

पैन Pain टैन Tain और टीन Tin इन तीनों में दस अक्षरों वाली संख्या से बना एक कोड है जो PAN लेनेवालों को जारी किया जाता है | यह कार्ड जिन धारक को मिला होता है ,उनके किए गए सभी लेन – देन  पर सरकार अपनी नजर रखती है |टेक्सेशन के भाग में प्रयोग किए गए शब्द एक जैसे दिख सकते है |लेकिन उसका मतलब और उद्देश्य अलग हो सकता है |

जब तक हम किसी भाषा को नहीं समझते है ,तब तक उस भाषा का सामना किए बिना टैक्स फाइलिंग की प्रक्रिया से गुजरना मुश्किल होता है |लेकिन कुछ भी हो आपको इन तीनों पैन टैन और टीन जो कि इनका नाम  सभी को मालूम है, भले ही इसका इस्तेमाल कहा होता है नहीं मालूम हो| परंतु इससे होकर आपको गुजरना ही है ,तो आइये इन तीनों का काम और मतलब नीचे विस्तार से जानते है –

PAN Kya Hai|पैन क्या हैं

सबसे पहले pan का full form होता है, परमानेंट अकाउंट नंबर (Permanent Account Number) जो कि संख्याओं और अक्षरों से बना 10 अंकों का कोड है |यह कोड  उन्हें जारी किया जाता है जो लोग PAN लिए होते हैं |इस पैन के जरिये कार्ड धारक की लेंन देन का लेखा जोखा यानि कार्ड धारक की लेंन देन पर सरकार अपनी नज़र रखती है | या यूं कहें कि पैन एक संख्या है जिसका उपयोग व्यक्ति अपने व्यवसाय या  टैक्स पेमेंट देन -लेन पर नज़र रखने के लिए करता है |सभी PAN अलग अलग होते हैं |

TAN Kya Hai|टैन क्या है

सबसे पहले हम जानेंगे टैन का full form क्या होता है ? टैक्स डिडक्शन एंड कलेक्शन अकाउंट नंबर ( Tax Deduction and Collection Account Number) जो कि आयकार विभाग द्वारा अल्फ़ान्यूमेरिक कोड जारी किया जाता है |जिसका उपयोग स्रोत पर एकत्रित कर (TCS)और स्रोत पर कर कटौती (TDS) को ट्रैक करने के लिए किया जाता है | आपको बातादें कि  टीडीएस से जुड़ी दस्तावेजों में टैन का प्रावधान कटौती करने वालों के लिए जरूरी है |ऐसा नहीं करने पर बैंक आपकी टीडीएस भुगतान और रिटर्न को अस्वीकार कर देती है |जिन लोगों को टैन कि जरूरत होती है वें ऑनलाइन या ओफलाइन आवेदन करने के लिए फॉर्म 49B का उपयोग कर प्राप्त कर सकते हैं |

Tin Kya Hai|टीन क्या है |

वहीं व्यक्ति वयक्तिगत व्यवसाय के लिए टीन लेता है जो मूल्य वर्धित कर ( वैट ) के लिए रजिस्ट्रेशन कराया होता है | टीन नंबर का उपयोग  सुगमता से अंतरराज्यीय बिक्री लेन देन के लिए भी किया जाता है |कई वैट भुगतनों की ट्रैकिंग की भीं सुविधा मिलती है |जिसमे 11 अंक  होते है,जो पहले 2 राज्यों के कोड को दरशाते हैं | यह गृह मंत्रालय द्वारा अनिवार्य किया गया है |

टैन, पैन , टीन यह तीनों ही बहुत महत्वपूर्ण कार्ड हैं, जिनका उपयोग सभी को अपने -अपने कार्य  क्षेत्र  के अनुसार इस्तेमाल करना होता है |हर कार्य क्षेत्र में जिनका जहां उपयुक्त स्थान हैं , के अनुसार इनका इस्तेमाल होता हैं | यानि टैन ,पैन और टीन नंबर का प्रयोग उनके उचित क्षेत्र में कार्ड धारकों द्वारा किया जाता है |

यह भी पढ़ें :

1. प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना

 2.आयुष्मान भारत योजना इन इंडिया

3.5best instant personal loan app

- Advertisement -
- Advertisement -

Stay Connected

604FansLike
2,458FollowersFollow
133,000SubscribersSubscribe

Must Read

- Advertisement -

Related Blogs

- Advertisement -